Sunday, April 11, 2021

आत्मनिर्भर भारत और मेक इन इंडिया के बीच अंतर

आत्मनिर्भर भारत और मेक इन इंडिया के बीच अंतर

 

आइए सबसे पहले हम, ‘आत्मनिर्भर भारत’ और ‘ मेक इन इंडिया’ की शुरुआत के पीछे की दृष्टि को समझें।

मेक इन इंडिया

हमारे माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने सितंबर 2014 में राष्ट्र-निर्माण की पहल के एक और व्यापक समूह के एक भाग के रूप में मेक इन इंडिया पहल की शुरुआत की। इस पहल के पीछे मुख्य कारण देश के विनिर्माण क्षेत्र को बढ़ावा देना, रोजगार का सृजन करना और भारत में व्यापार शुरू करने को आसान बनाना था। जिसका मुख्य उद्देश्य राष्ट्र के सकल घरेलू उत्पाद में विनिर्माण उद्योग के योगदान को बढ़ाना था।

केवल विनिर्माण उद्योग को बढ़ाने से अधिक, मेक इन इंडिया पुरानी प्रक्रियाओं और नीतियों के व्यापक और अभूतपूर्व कायापलट का प्रतिनिधित्व करता है।

आत्मनिर्भर भारत

आत्मनिर्भर भारत, भारत को आत्मनिर्भर ’राष्ट्र बनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक दूरदृष्टि है।

12 मई 2020 को कोरोनो वायरस महामारी संबंधी आर्थिक पैकेज की घोषणा के दौरान प्रधान मंत्री ने इस पहल की शुरुआत की। 

प्रधान मंत्री मोदी ने अर्थव्यवस्था के हर क्षेत्र को मांग, आपूर्ति और अंततः भारत को एक-आत्मनिर्भर ’राष्ट्र बनाने की दृष्टि से आत्मनिर्भर भारत अभियान कि घोषणा की।

वित्तीय सहायता से लेकर कौशल विकास कार्यक्रमों तक यह पहल अर्थव्यवस्था के समग्र नवजीवन पर केंद्रित है।


दोनों योजनाओं के बीच अंतर

कम या ज्यादा, दोनों योजनाओं में एक जैसे ही लक्ष्य और दृष्टिकोण हैं। यह भी कहा जा सकता है कि आत्मनिर्भर भारत मेक इन इंडिया पहल का एक नया रूप है। दोनों योजनाएं भारत में विनिर्माण बढ़ाने, रोजगार बढ़ाने, निर्यात बढ़ाने और आयात पर निर्भरता को कम करने का सुझाव देती हैं। अंतर व्यक्ति के दृष्टिकोण में निहित है कि वह दोनों योजनाओं को कैसे देखता है। मेक इन इंडिया योजना पहल मुख्य रूप से देश के विनिर्माण क्षेत्र के विकास पर केंद्रित है।

इसके विपरीत, आत्मनिर्भर भारत योजना का उद्देश्य अर्थव्यवस्था के हर क्षेत्र को मांग और आपूर्ति से पुनर्जीवित करना है।

मेक इन इंडिया योजना कुशल श्रमिकों के लिए रोजगार के अवसरों को बढ़ाता है, जबकि आत्मनिर्भर भारत योजना कौशल विकास कार्यक्रमों की पेशकश करेगी और अकुशल श्रमिकों के लिए रोजगार के अवसरों का निर्माण करेगी

No comments:

14 May 2021 Current Affairs