Sunday, April 25, 2021

Google Site's के update version me site कैसे upload करे how to use google sites

मेरे लिए क्या जानना ज़रूरी है?

हमने 2016 में, Google Sites का अपडेट किया गया वर्शन लॉन्च किया था. इसे इस तरह से डिज़ाइन किया गया था कि आप प्रोग्रामिंग की जानकारी के बिना भी वेबसाइटें बना सकें. मोबाइल और डेस्कटॉप के लिए उन्हें ऑप्टिमाइज़ कर सकें. साथ ही, रीयल-टाइम में दूसरे लोगों के साथ मिलकर उन पर काम कर सकें. हमने 2017 में, Sites के पुराने वर्शन को Google Sites के नए वर्शन में बदलने का एलान किया था. Sites के पुराने वर्शन को 'क्लासिक साइटें' भी कहा जाता है. अगस्त 2020 में, हमने ट्रांज़िशन की समयावधि के बारे में ज़्यादा जानकारी दी थी.

मुझे क्या करना होगा?

अपनी साइटों का माइग्रेशन आज ही शुरू करें. अगर आप चाहते हैं कि आपकी वेबसाइटें दूसरे लोगों को दिखती रहें, तो आपको 1 सितंबर, 2021 से पहले, अपनी वेबसाइटों को Google Sites के नए वर्शन में बदलना और प्रकाशित करना होगा.

आप क्लासिक साइट मैनेजर की मदद से, अपनी वेबसाइटों का ट्रांज़िशन इस तरह से कर सकते हैं:

  •  अपनी वेबसाइटों को Google Sites के नए वर्शन में बदलें. ऐसा तब करें, जब आप चाहते हों कि आपकी वेबसाइटों पर आने वाले लोगों को वे दिखती रहें.
  •  अपनी वेबसाइटें डाउनलोड करें. ऐसा तब करें, जब आप अपनी वेबसाइटों के संग्रह किए गए वर्शन सेव करना चाहते हों.
  •  उन वेबसाइटों को मिटाएं जिनकी अब आपको ज़रूरत न हो.

अगर आप कोई कार्रवाई नहीं करते हैं, तो 1 सितंबर से, आपकी वेबसाइटें अपने-आप:

  • संग्रह के तौर पर डाउनलोड हो जाएंगी और आपके Google Drive में सेव हो जाएंगी.
  • Google Sites के नए वर्शन में ड्राफ़्ट में बदल जाएंगी, ताकि आप उनकी समीक्षा कर सकें और उन्हें प्रकाशित कर सकें.

इस प्रोसेस के बारे में ज़्यादा जानने के लिए, Sites सहायता केंद्र पर जाएं.

Google Sites के बारे में ज़्यादा जानें

हमने आपके सुझावों पर गौर किया है. आपके खास अनुरोध, अब Google Sites के नए वर्शन में शामिल हैं.

  • सेक्शन लेआउट और पहले से तैयार टेंप्लेट की मदद से, आप कम जानकारी होने पर भी आसानी से वेबसाइटें बना सकते हैं.
  • वर्शन इतिहास की मदद से, आप वेबसाइटों में किए गए बदलावों का इतिहास देख सकते हैं. साथ ही, पिछले वर्शन वापस ला सकते हैं और उन्हें पहले जैसा कर सकते हैं. आप यह भी देख सकते हैं कि बदलाव किसने किए थे.
  • टेक्स्ट के स्टाइल को पसंद के मुताबिक बनाने की सुविधा और नए टाइल टाइप की मदद से, आप वेबसाइट का कॉन्टेंट बेहतर तरीके से दिखा सकते हैं. इसमें विषय सूची, इमेज कैरसेल, टेक्स्ट को कम जगह में दिखाने की सुविधा के साथ ही और भी बहुत कुछ शामिल है.
  • कस्टम यूआरएल और अपनी ऑडियंस के लिए प्रकाशित करने की सुविधा से, आप अपनी वेबसाइट का कॉन्टेंट शेयर कर सकते हैं.

जानें कि Google Sites में और क्या नया है.

मुझे मदद कैसे मिल सकती है?

दूसरे संसाधनों के बारे में आपको क्या जानने की ज़रूरत है और अपने बदलाव को कैसे मैनेज करना है, इस बारे में जानने के लिए, Sites के सहायता केंद्र पर जाएं.

No comments: