Monday, April 26, 2021

स्पर्श व्यंजन उष्म व्यंजन अन्तस्थ व्यंजन संयुक्त व्यजंन hindi vyakaran spars vyanjan ushm vyanjan antatah vyanjan sanyukt vyajan

स्पर्श व्यंजन

इन्हें पाँच वर्गों में रखा गया है और हर वर्ग में पाँच-पाँच व्यंजन हैं। हर वर्ग का नाम पहले वर्ग के अनुसार रखा गया है

जैसे:
क वर्ग- क ख ग घ ड़
च वर्ग- च छ ज झ ञ
ट वर्ग- ट ठ ड ढ ण (ड़ ढ़)
त वर्ग- त थ द ध न
प वर्ग- प फ ब भ म

2'अंतःस्थ व्यंजन

अन्तस्थ निम्न चार हैं - य र ल व

3.ऊष्म व्यंजन

ऊष्म व्यंजन निम्न चार हैं - श ष स ह

📵'सयुंक्त व्यंजन (Mixed Consonants)

वैसे तो जहाँ भी दो अथवा दो से अधिक व्यंजन मिल जाते हैं वे संयुक्त व्यंजन कहलाते हैं, किन्तु देवनागरी लिपि में संयोग के बाद रूप-परिवर्तन हो जाने के कारण इन तीन को गिनाया गया है। ये दो-दो व्यंजनों से मिलकर बने हैं।

जैसे-
क्ष = क्+ष - अक्षर,
ज्ञ = ज्+ञ - ज्ञान,
त्र = त्+र - नक्षत्र
श्र = श्+र - श्रवण

कुछ लोग क्ष, त्र, ज्ञ, श्र को भी हिन्दी वर्णमाला में गिनते हैं, पर ये संयुक्त व्यंजन हैं। अतः इन्हें वर्णमाला में गिनना उचित प्रतीत नहीं होता।

No comments: