Saturday, April 24, 2021

प्रेमचंद परिचय मूल नाम धनपत राय हिंदी साहित्य के महान लेखक Musni Premchand Dhanpat Rai Great writer of Hindi literature

🎤 प्रेमचंद 
▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬
👤परिचय
मूल नाम : धनपत राय

👣जन्म : 31 जुलाई 1880, लमही, वाराणसी (उत्तर प्रदेश)
🗣भाषा : हिंदी, उर्दू
📚विधाएँ : कहानी, उपन्यास, नाटक, वैचारिक लेख, बाल साहित्य

◾️मुख्य कृतियाँ
🌻उपन्यास :  गोदान, गबन, सेवा सदन, प्रतिज्ञा, प्रेमाश्रम, निर्मला, प्रेमा, कायाकल्प, रंगभूमि, कर्मभूमि, मनोरमा, वरदान, मंगलसूत्र (असमाप्त)
🌼कहानी : सोज़े वतन, मानसरोवर (आठ खंड), प्रेमचंद की असंकलित कहानियाँ, प्रेमचंद की शेष रचनाएँ
🌸नाटक : संग्राम- 1923 ई., कर्बला- 1924 ई., प्रेम की वेदी- 1933 ई.
💁‍♂बाल साहित्य : रामकथा, कुत्ते की कहानी
🙇‍♂विचार : प्रेमचंद : विविध प्रसंग, प्रेमचंद के विचार (तीन खंडों में)
📇अनुवाद : आजाद-कथा (उर्दू से, रतननाथ सरशार), पिता के पत्र पुत्री के नाम (अंग्रेजी से, जवाहरलाल नेहरू)
🖨संपादन : मर्यादा, माधुरी, हंस, जागरण

◾️निधन
8 अक्टूबर 1936

◾️विशेष
प्रगतिशील लेखक संघ के स्थापना सम्मेलन (1936) के अध्यक्ष। इनकी अनेक कृतियों पर फिल्में बन चुकी हैं। विभिन्न देशी-विदेशी भाषाओं में अनुवाद। अमृत राय (प्रेमचंद के पुत्र) ने ‘कलम का सिपाही’ और मदन गोपाल ने ‘कलम का मजदूर’ शीर्षक से उनकी जीवनी लिखी है।
▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬
Join➥ @Hindi_Sahitya ❣💐
Also Join ➥ @StudyforHindiSahitya

No comments: